बैठे न रहें!स्वास्थ्य बीमा का लाभ उठाना शुरु करें

0
240
get health insurance

बैठे न रहें!स्वास्थ्य बीमा का लाभ उठाना शुरु करें

कम उम्र के ज्यादातर लोगों को लगता है कि वे कितने
स्वस्थ हैं और भविष्य में भी उन्हें कुछ ऐसी बीमारी नहीं होने वाली जिसके लिए स्वास्थ्य बीमा कराया जाये। अधिकतर लोगों का सोचना होता है कि महीने के खर्च और अन्य खर्चों के साथ वो बीमा का मासिक या वार्षिक खर्च क्यों पालें जबकि वो स्वस्थ्य हैं। उन्हें बीमा कवरेज की कोई जरुरत महसूस नहीं होती। कम उम्र में लोग कम बीमार पड़ते हैं इस कारण उनका अस्पतालों ओर डॉक्टर के पास कम जाना होता है। साल में एक-दो बार डॉक्टर के पास जाने पर अक्सर लोग सोचते हैं कि एक-दो बार का खर्चा, तो हम अपनी जेब से उठा सकते हैं, इसमें बीमा कराने की क्या जरुरत है। लेकिन लोग ये भूल जाते हैं कि जिंदगी कितनी अनिश्चित है। कब क्या हो जाये किसी को पता नहीं होता। भगवान न करे, लेकिन बीमारियां और दुर्घटनाएं बता कर नहीं होती। एक बार सोचें यदि किसी को कोई गंभीर बीमारी हो जाये या कोई दुर्घटना जिससे वो बुरी तरह घायल हो। ऐसे में अस्पताल का खर्च बहुत बढ़ जाता है। इस स्थिति में हमें पता भी नहीं चलता कैसे हमारी बचत और सैलरी दवाओं और अन्य जांचों में खत्म होती चली जाती है। इसी कारण हमें बड़ी बीमारियों और दुर्घनाओं के इंतजार में नहीं बैठना चाहिए, बल्कि जितनी जल्दी हो सके उतनी जल्दी स्वास्थ्य बीमा कराकर इसका लाभ प्राप्त करना चाहिए। यह बीमारी और दुर्घटनाओं के समय आपको कवर प्रदान करता है।

मेडिकल इमर्जेंसी कर सकती है दिवालिया

अस्पताल में किसी आपात स्थिति का इलाज कराना बहुत महंगा होता है। यदि आपके पास कोई स्वास्थ्य बीमा नहीं है और न चाहते हुए भी आपके साथ कोई दुर्घटना या बीमारी हो जाती है एवं आपको आपात स्थिति में अस्पताल में भर्ती कराना पड़ता है, तो इस स्थिति में आपका कितना खर्चा होगा इसकी गारंटी कोई नहीं दे सकता। आपात स्थिति में अस्पतालों में पैसा पानी की तरह बहता है और न जाने कब आपकी सारी बचत खर्च हो जाती है पता ही नहीं चलता। दुर्घटनाएं किसी के भी साथ हो सकती हैं। क्या पता सीढ़ी पर चलते वक्त आपका पैर फिसल जाये और आपका पैर टूट जाए। इसके साथ ही अन्य चोटें आ जायें। साथ ही छोटी-छोटी आपातकालीन सर्जरी जैसे अपेन्डेक्स आदि भी बहुत महंगी होती हैं। कुछ दुर्घटनाएं और बीमारियां इतनी बड़ी और घातक होती हैं कि इनके होने पर इलाज का खर्चा उठाते-उठाते इंसान दिवालिया हो जाता है। स्वास्थ्य बीमा के बिना चिकित्सा खर्चों का भुगतान करना बहुत कठिन होता है। इसलिए लोगों को स्वास्थ्य बीमा कराने की सलाह दी जाती है।

बीमा के अभाव में नहीं कराते छोटी बीमारियों का अच्छा इलाज

जब आपके पास कोई स्वास्थ्य बीमा नहीं होता है, तो आप मामूली और छोटी बीमारियों का इलाज कराने से बचतेहैं। क्योंकि आप सोचते हैं कि इनका क्या इलाज कराया जाये अपने आप ही ठीक हो जायगी, लेकिन कभी-कभी यह छोटी समस्याएं तेजी से बढ़ जाती हैं। इसके साथ ही अस्पताल जाने की जगह हम मेडिकल स्टोर से कोई दवाएं ला कर खा लेते हैं और कोशिश करते हैं कि इन्हीं दवाओं से ठीक हो जायें। कभी-कभी ठीक भी हो जाते हैं, लेकिन कभी परेशानी में भी आ जाते हैं। इसका कारण है कि हमारे पास स्वास्थ्य बीमा नहीं होना और अस्पताल या डॉक्टर के पास जाने पर होने वाला खर्चा। यदि इस स्थिति में हमारे पास स्वास्थ्य बीमा होता तो हमें पैसे की कोई चिंता नहीं होती और किसी अस्पताल या डॉक्टर के पास जाकर उचित इलाज कराते।

करें सही प्लान का चयन

स्वास्थ्य बीमा कराना दिखावा नहीं एक आवश्यकता है। बाजार में कई तरह के प्लान मौजूद हैं, लेकिन आपको आपनी आवश्यकता के अनुसार प्लान का चयन करना होता है। प्लान लेते समय आपको निम्न बातों पर ध्यान देना चाहिए।

कैसा है आपका स्वास्थ्य –वर्तमान में आपका स्वास्थ्य कैसा है। क्या आपको हर महीने डॉक्टर के पास जाना पड़ता है। क्या आपकी ऐसी कोई दवाएं चल रहीं हैं, जिन्हें आप रोज लेते हैं। क्या आप किसी जोखिम वाले व्यवसाय या खेल से जुड़े हुए हैं आदि बातों को ध्यान में रखना चाहिए।

आपकी प्राथमिकताएं –आपकी प्राथमिकताएं क्या हैं। आपका मासिक खर्च क्या है। सभी खर्चों को मिलाकर आप मासिक कितना पैसा बचा लेते हैं। इस सभी बातों को ध्यान में रखकर आप प्लान का चयन कर सकते हैं और आपनी बचत के हिसाब से कम-ज्यादा प्रीमियम वाला प्लान चुन सकते हैं।

आपकी कवरेज जरूरतें –बाजार में बहुत से प्लान हैं। इनमें से आपको आपकी आवश्यकताओं के अनुरूप प्लान का चयन करना है। इसके लिए अलग-अलग योजनाओं के विवरण का अध्ययन और विश्लेषण करें। हो सकता है कोई कम प्रीमियम वाली योजना आपका ध्यान आकर्षित करे, लेकिन इसके चयन से पहले भी सभी नियम और शर्तों को जांच परख लें।

विशेषज्ञ की राय लें –जिन लोगों के पास इन योजनाओं की खरीदारी का कोई अनुभव नहीं होता, उन्हें इसके विशेषज्ञों से राय ले लेनी चाहिए। वो आपको उचित सलाह देकर चयन करने में मदद कर सकते हैं।

ऊपर बताई गई बातों पर विचार करें और स्वास्थ्य बीमा जरुर करायें। यह भविष्य में आपके लिए मददगार साबित होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here