इस तरह से लें बिना नौकरी के स्वास्थ्य बीमा योजना का लाभ

1
641
get health insurance with no job

इस तरह से लें बिना नौकरी के स्वास्थ्य बीमा योजना का लाभ

देश में लगभग सभी जगह सार्वजनिक स्वास्थ्य केंद्रों के होने के बाद भी स्वास्थ्य बीमा योजनायें तेजी से लोकप्रिय हो रही हैं। इसका मुख्य कारण सार्वजनिक स्वास्थ्य केंद्रों पर आपातकालीन सुविधाओं का अभाव और उपचार की गुणवत्ता का कम होना है। इन असुविधाओं के कारण लोग निजी अस्पतालों में इलाज कराना पसंद करते हैं, जहां बेहतर सुविधाओं के साथ अच्छा इलाज उपलब्ध होता है। लेकिन यहां लोगों को वित्तीय समस्या का सामना करना पड़ता है क्योंकि निजी अस्पतालों में उपचार अपेक्षाकृत महंगा होता है। इससे बचने के लिए लोग स्वास्थ्य बीमा योजनाओं का सहारा लेते हैं, जो बीमारी के खर्चों के लिए कवर प्रदान करती हैं। इसका लाभ लेने के लिए पॉलिसीधारक की आयु 18 वर्ष से अधिक होनी चाहिए। यदि आप छोटे व्यवसायी, संगठित क्षेत्र के कर्मचारी या असंगठित क्षेत्र के कर्मचारी हैं, तो आप स्वास्थ्य बीमा योजना का लाभ उठा सकते हैं। बीमा के प्रीमियम का भुगतान करने में सक्षम कोई भी व्यक्ति स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी ले सकता है। यदि आप बेरोजगार हैं या आप के पास मासिक आय का कोई नियमित साधन नहीं है, तो भी आप स्वास्थ्य बीमा योजना खरीद सकते हैं। इस स्थिति में भी आपके पास कई विकल्प मौजूद होते हैं, क्योंकि स्वास्थ्य बीमा योजना आपकी नौकरी पर नहीं, बल्कि प्रीमियम भुगतान की नियमितता पर निर्भर करती है।

यदि आप बेरोज़गार हैं, तो निम्न बीमा योजनाओं का लाभ उठा सकते हैं –

समुदाय स्वास्थ्य बीमा कवरेज

कुछ समुदाय और समूह क्षेत्र विशेष के स्थानीय निवासियों को स्वास्थ्य बीमा योजना प्रदान करते हैं। ये योजनाएं इलाके के स्थानीय अस्पतालों और क्लीनिकों से जुड़ी होती हैं। इनमें कम प्रीमियम देना होता है और इसमें सस्ते चिकित्सा उपचार को कवर किया जाता है। इस तरह की सामुदायिक योजनाएं महंगे उपचारों को कवर नहीं करती हैं।

सरकारी स्वास्थ्य बीमा कवरेज

यदि आपने हाल ही में नौकरी खो दी है या कई वर्षों से बेरोजगार हैं, तो आप “मेडिकिड – सरकारी सहायता कार्यक्रम” के लिए पात्र हो सकते हैं। यह कार्यक्रम गरीबी रेखा से नीचे रहने वाले लोगों के लिए चलाया जाता है। इस सहायता कार्यक्रम के माध्यम से मेडिकल कवर के साथ लोगों को सब्सिडी भी दी जाती है, जिसका आप उपयोग कर सकते हैं।

अल्पावधि स्वास्थ्य बीमा कवरेज

अल्पकालिक स्वास्थ्य बीमा योजनाएं केवल कम अवधि के लिए व्यक्ति को कवर प्रदान करती हैं। यह अवधि आम तौर पर छह महीने या बेरोजगार को नई नौकरी मिलने तक की अवधि होती है। यह योजना अपेक्षाकृत महंगी होती है।

आयुष्मान भारत – प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना

इस योजना के तहत बेरोज़गार, गरीब, उपेक्षित और शहरी गरीब परिवारों को बीमा कवर प्रदान किया जाता है। योजना के तहत प्रत्येक परिवार को प्रत्येक वर्ष 5 लाख रुपये का स्वास्थ्य बीमा लाभ दिया जाता है। योजना में अस्पताल में इलाज का पूरा खर्च कवर किया जाता है। अस्पताल में भर्ती होने से पहले और बाद के खर्चों का भी कवर मिलता है। योजना का लाभ आसानी से लिया जा सके इसके लिए प्रत्येक अस्पताल में आयुष्मान मित्र नियुक्त किए गए हैं, जो मरीजों की मदद करते हैं और योजना का लाभ दिलाते हैं। इसमें सरकारी तथा प्राइवेट अस्पतालों में इलाज कराया जा सकता है। इसमें परिवार के सदस्यों और उम्र का कोई बंधन नहीं है। 

निजी स्वास्थ्य बीमा योजना लेते समय निम्नलिखित बातों पर ध्यान देना चाहिए

  • आपका बजट क्या है और आपको कितना कवर चाहिए।
  • योजना सिर्फ आपके लिए चाहिए या पूरे परिवार के लिए।
  • आपके द्वारा ली जा रही स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी में कौन-कौन सी सुविधाओं और लाभों को शामिल किया गया है।
  • आपकी और आपके परिवार की बीमा आवश्यकताएं क्या हैं।
  • आपको स्वास्थ्य बीमा योजनाओं की ऑनलाइन तुलना करनी चाहिए और उस प्लान का चयन करना चाहिए जिसकी ग्राहकों ने अच्छी समीक्षा की हो।
  • बीमा लेने से पहले जांच लें कि कंपनी विश्वसनीय है और बाजार में उसकी अच्छी छवि है। यह बाद में अपने वादों और दावों से पलट तो नहीं जायगी।
  • बीमा कंपनी द्वारा दिये जाने वाले अतिरिक्त लाभ क्या हैं। प्रतीक्षा अवधि और नवीनीकरण विकल्पों की संपूर्ण जानकारी प्राप्त करें।

जहां काम कर रहे हैं उस कंपनी द्वारा कराए जाने वाले स्वास्थ्य बीमा पर निर्भर न रहें

यदि आपके पास व्यक्तिगत स्वास्थ्य बीमा योजना है तो आप कभी भी स्वास्थ्य बीमा योजना के लाभों को ले सकते हैं, फिर चाहे आप नौकरी में हों, बेरोजगार हों या आपने नौकरी स्विच कर दी हो या आप सेवानिवृत्त हो गए हों। लेकिन कंपनी स्वास्थ्य बीमा योजना में कुछ प्रतिबंध होते हैं। कंपनी छोड़ने पर या नौकरी छोड़ने पर कवर समाप्त हो जाता है। इसके साथ ही कंपनी स्वास्थ्य बीमा, व्यक्तिगत स्वास्थ्य बीमा योजनाओं जैसा व्यापक कवरेज प्रदान नहीं करती है। कंपनी स्वास्थ्य बीमा योजना समय-समय पर बदलती रहती है, जिससे कवरेज प्रभावित होता है।

निम्न स्थितियों में नौकरी बीमा कोई कवर नहीं देता 

  • किसी दुर्घटना के कारण बेरोजगार होने पर।
  • परिवीक्षा अवधि के दौरान बेरोजगार होने पर।
  • जल्दी सेवानिवृत्ति लेने के कारण बेरोजगार होने पर।
  • कोई बड़ी बीमारी होने के कारण नौकरी छूट जाने पर।
  • टर्मिनेट या निलंबन के कारण नौकरी छूट जाने पर।

अत: आप बेरोजगार होते हुए भी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी का लाभ ले सकते हैं, सिर्फ इसके लिए आपको पर्याप्त जानकारी होनी चाहिए।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here