लड़कियों के लिए शिक्षा ऋण

1
469
education loan for girls

लड़कियों के लिए शिक्षा ऋण

शिक्षा के महत्व को कोई नकार नहीं सकता। लड़के हों या लड़कियां सभी के लिए शिक्षा का समान महत्व है। वर्तमान में प्राथमिक स्कूलों में जाने वाले लड़के और लड़कियों की संख्या लगभग समान है। लेकिन जैसे-जैसे लड़कियां बड़ी होती जाती हैं और उच्च कक्षा में प्रवेश करती हैं, तो उनकी संख्या घटने लगती है। यदि लड़कियों को अपना भविष्य उज्ज्वल बनाना है, तो उन्हें गुणवत्तापूर्ण और उच्च शिक्षा प्राप्त करनी होगी। लेकिन विभिन्न कारणों से अक्सर लड़कियां अच्छी और उच्च शिक्षा से वंचित रह जाती हैं। लड़कियों की शिक्षा में सबसे पहली रुकावट पैसे की कमी की होती है। इसलिए इस लेख के माध्यम से हम आपको लड़कियों के लिए शिक्षा ऋण के बारे में जानकारी देने जा रहे हैं।

लड़कियों के लिए शिक्षा ऋण क्यों जरूरी है?

  • ऋण के माध्यम से लड़कियां माता-पिता पर वित्तीय बोझ बने बिना गुणवत्तापूर्ण और उच्च शिक्षा प्राप्त कर सकती हैं।
  • शिक्षा के दौरान केवल ट्यूशन फीस ही नहीं लगती। इसमें कॉलेज के डिपॉजिट, यूनिफॉर्म, यात्रा किराया, लाइब्रेरी और परीक्षा शुल्क जैसे अन्य खर्च शामिल होते हैं। शिक्षा ऋण के माध्यम से आप बचत बनाए रखते हुए इन सभी खर्चों को वहन कर सकते हैं।
  • बैंक केवल 7.5 लाख रुपये से अधिक के ऋण के लिए संपार्श्विक मांगते हैं। वहीं महिला आवेदकों को शिक्षा ऋण के ब्याज में रियायत मिलती है।
  • शिक्षा ऋण लेने पर आप धारा 80 ई के तहत भुगतान किये गए ब्याज पर टैक्स छूट प्राप्त कर सकते हैं। शिक्षा ऋण की मूल राशि के पुर्नभुगतान पर कोई टैक्स लाभ नहीं मिलता है।
  • शिक्षा ऋण पर ब्याज दरें 9-15% प्रति वर्ष होती हैं।

विद्या लक्ष्मी योजना

  • छात्र, विद्या लक्ष्मी योजना के पोर्टल के माध्यम से कई वित्तीय संस्थानों में आवेदन कर सकते हैं।
  • यहां पर आप एक ही आवेदन पत्र के माध्यम से शिक्षा ऋण के लिए आवेदन कर सकते हैं। आप आवेदन की स्थिति विद्या लक्ष्मी योजना के पोर्टल पर ऑनलाइन देख सकते हैं।
  • यदि आप विद्या लक्ष्मी योजना के माध्यम से लोन लेना चाहते हैं, तो विद्या लक्ष्मी पोर्टल पर लॉगिन करें और आवेदन फॉर्म भरें।
  • आप एक ही आवेदन पत्र के माध्यम से अधिकतम 3 वित्तीय संस्थानों में आवेदन कर सकते हैं।
  • विद्या लक्ष्मी योजना के माध्यम से लिये गये ऋण की ब्याज दरें आरबीआई और आईबीए के दिशानिर्देशों पर निर्भर करती हैं।

विद्या लक्ष्मी शिक्षा ऋण पोर्टल पर पंजीकरण कैसे करें?

  • विद्या लक्ष्मी वेबसाइट पर लॉग ऑन करें।
  • वेबसाइट पर आपको ‘रजिस्टर’ विकल्प दिखेगा, इस पर क्लिक करें।
  • नाम, आयु, ईमेल आईडी, जन्मतिथि और मोबाइल नंबर जैसे आवश्यक विवरण भरें।
  • आधिकारिक नियम और शर्तें पढ़ें और ‘नियम और शर्तों से सहमत’ पर क्लिक करें।
  • फिर सब्मिट पर क्लिक करें।
  • इसके बाद भी पंजीकरण की प्रक्रिया पूरी नहीं होती। यह तब पूरी होती है, जब पुष्टिकरण लिंक ईमेल पते पर भेजी जाती है।

विद्या लक्ष्मी ऋण आवेदन पत्र कैसे भरें?

  • इसके लिए आपको सबसे पहले विद्या लक्ष्मी शिक्षा ऋण पोर्टल पर जाना होगा।
  • फिर ‘लॉगिन’ और ‘छात्र लॉगिन’ का चयन करें।
  • पंजीकृत ईमेल आईडी और पासवर्ड भरें।
  • इसके बाद कैप्चा कोड दर्ज करें। यह आपको टेक्स्ट बॉक्स में दिखाई देगा।
  • फिर लॉगिन बटन पर क्लिक करें और अपना आवेदन पत्र भरें।

विद्या लक्ष्मी पोर्टल पर शिक्षा ऋण के लिए सर्च कैसे करें?

  • सबसे पहले आपको विद्या लक्ष्मी छात्र पैनल में लॉगिन करना होगा।
  • छात्र होम पेज पर ‘सर्च फॉर लोन स्कीम’ विकल्प देखें।
  • एजुकेशन लोन सर्च पैनल पर जाने के बाद शिक्षा ऋण श्रेणी विकल्प पर क्लिक करें।
  • इसके बाद अध्ययन ऋण श्रेणी का चयन करें। इसका चयन शिक्षा के स्थान, पाठ्यक्रम के प्रकार और ऋण राशि के आधार पर किया जाता है।
  • फिर सर्च बटन पर क्लिक करें। आपको बैंकों की एक सूची दिखाई देगी। आप अपनी सुविधा के अनुसार बैंक का चयन कर सकते हैं।
अध्ययन के स्थान के आधार पर शिक्षा ऋण पाठ्यक्रम के आधार पर शिक्षा ऋण ऋण राशि के आधार पर शिक्षा ऋण
भारत अंडर ग्रेजुएट 4 लाख से कम
विदेश पोस्ट ग्रेजुएट 4 लाख से 7.5 लाख के बीच
दोनों पेशेवर कोर्स 7.5 लाख से अधिक
  वोकेशनल कोर्स सभी मूल्य

विद्या लक्ष्मी शिक्षा ऋण आवेदन की स्थिति की जांच कैसे करें?

  • विद्या लक्ष्मी स्टूडेंट लॉगिन पर जाएं।
  • ‘आवेदन की स्थिति’ विकल्प को खोजें।
  • ‘ऋण आवेदन की स्थिति प्राप्त करें’ विकल्प पर क्लिक करें।
  • इसके बाद आप अपने आवेदन की स्थिति जान सकेंगे।

विद्या लक्ष्मी शिक्षा ऋण योजना के महत्वपूर्ण बिंदु

  • इस योजना के तहत आर्थिक रूप से पिछले लड़के एवं लड़कियां एक निश्चित समय अवधि तक ब्याज चुकौती के दबाव के बिना शिक्षा ऋण का लाभ ले सकते हैं।
  • विद्या लक्ष्मी सब्सिडी योजना पाठ्यक्रम की अवधि के दौरान शिक्षा ऋण के ब्याज के खिलाफ कवर प्रदान करती है।
  • 4.5 लाख रुपये की वार्षिक पारिवारिक आय वाले छात्र विद्या लक्ष्मी सब्सिडी योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं।
  • इस योजना का लाभ केवल एक बार मिलता है।
  • ब्याज सब्सिडी केवल कोर्स की अवधि के लिए होती है।
  • यदि छात्र शिक्षण संस्थान को छोड़ देता है, तो ब्याज सब्सिडी बंद हो जाती है।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here