2020 में जीवन और स्वास्थ्य बीमा के लिए महत्वपूर्ण चेकलिस्ट

0
120
checklist for life and health insurance

2020 में जीवन और स्वास्थ्य बीमा के लिए महत्वपूर्ण चेकलिस्ट

समय के साथ संभावनाएं और चुनौतियां जीवन में आती हैं, इसलिए आपको अपने आप को चुनौतियों के लिए तैयार करना चाहिए। आप अपने जीवन और स्वास्थ्य बीमा योजनाओं को अपडेट करके जीवन में आने वाली अनिश्चितताओं के समय होने वाली परेशानियों से अपने आपको बचा सकते हैं। नया साल शुरू हो गया है। यही अपनी वर्तमान स्थिति का आकलन करने, अपनी बीमा आवश्यकताओं का मूल्यांकन करने और पहले से मौजूद कवरों के साथ इनकी तुलना करने आदि का सही समय है। इसलिए इस लेख के माध्यम से हम आपको उन चीजों के बारे में जानकारी देने जा रहे हैं, जिन पर आपको अपने बीमा कवरों का आकलन करते समय विचार करना चाहिए।

जीवन बीमा के लिए चेकलिस्ट

जीवन बीमा पॉलिसी पॉलिसीधारक और बीमा कंपनी के बीच एक समझौता होती है। पॉलिसी के तहत बीमाकर्ता, पॉलिसीधारक द्वारा किए गए नियमित प्रीमियम भुगतान के बदले पॉलिसी अवधि के दौरान पॉलिसीधारक के आकस्मिक निधन या प्राकृतिक मृत्यु पर एक निश्चित राशि का भुगतान करने के लिए सहमत होता है। यदि आपके पास पहले से ही जीवन बीमा है, तो आपको आपनी वर्तमान परिस्थितियों का मूल्यांकन करने की जरूरत है। आप अपनी जीवन बीमा पॉलिसी की फिर से जांच कर सकते हैं और अपनी जरूरत के अनुसार इसमें वांछित बदलाव कर सकते हैं। जीवन बीमा के लिए आपको निम्न चीजों पर विचार करना चाहिए –

परिवार के नए सदस्य को जोड़ना – यदि आपके परिवार में एक नवजात बच्चे का जन्म होने वाला है, तो आप निश्चित रूप से उसे अपनी बीमा योजना के तहत शामिल करना चाहेंगे। इसलिए आपको सही कवर का निर्धारण करके अपने कवर का विस्तार करना होगा। कवर का विस्तार करने से बीमा राशि या मृत्यु लाभ भी बढ़ जाता है। इसलिए अपनी बदलती परिस्थितियों पर विचार करें और उनके अनुसार अपने कवर को बढ़ायें।

परिवार के सदस्य की मृत्यु होने पर – यदि आपके परिवार में किसी सदस्य की मृत्यु हुई है, तो आपको अपनी पॉलिसी की स्थिति पर विचार करना चाहिए। क्योंकि यदि पॉलिसी में नामित सदस्य की मृत्यु हो जाती है, तो आपको इसमें आवश्यक परिवर्तन करने की आवश्यकता होगी। वैसे भी जीवन बीमा कवर जीवन के जोखिम को कवर करने और अपने परिवार के सदस्यों को वित्तीय सुरक्षा प्रदान करने के लिए होता है। इसलिए यदि आपके परिवार के सदस्य कम हो गए हैं, तो अपने कवर और जरूरतों पर विचार करें और आवश्यकता के अनुसार वांछित परिवर्तन करायें।

पारिवारिक दायित्व में कमी होने पर – यदि आपकी जिम्मेदारियां कम हो गई हैं, तो आपको अपने बीमा कवर को फिर से निर्धारित करने की आवश्यकता है। उदाहरण के लिए यदि आपके बच्चे की जॉब लगने वाली है, तो आपकी जिम्मेदारी में कुछ कमी आ जायेगी। ऐसी स्थिति में आपको अपनी पॉलिसी में बदलाव करने की आवश्यकता होगी। इसके साथ ही यदि आपने हाल ही में होम लोन लिया है, तो आप अपने बीमा कवर को कम करने पर विचार कर सकते हैं। अपनी प्रमुख जिम्मेदारियों को पूरा करने के बाद आप अपने बीमा कवर में बदलाव कर सकते हैं।

जीवन बीमा कवर का मुख्य उद्देश्य दुर्भाग्यपूर्ण घटना की स्थिति में अपने आश्रितों को पर्याप्त वित्तीय सहायता प्रदान करना होता है। यदि आपके पास पर्याप्त जीवन बीमा कवर होता है, तो आपके न होने पर भी आपके परिवार के सदस्यों को वित्तीय समस्याओं का सामना नहीं करना पड़ता। इसलिए समय के साथ अपने जीवन बीमा कवर का आकलन करें और जरूरत के अनुसार उसमें परिवर्तन करें।

स्वास्थ्य बीमा के लिए चेकलिस्ट

स्वास्थ्य बीमा भी हमारे जीवन में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। आपको अपनी बदलती स्वास्थ्य स्थिति पर विचार करके अपने स्वास्थ्य बीमा कवर का पुनर्मूल्यांकन करना चाहिए। अपने स्वास्थ्य बीमा को संशोधित करते समय निम्न बातों का ध्यान रखें –

समूह स्वास्थ्य बीमा में परिवर्तन होने पर – अधिकांश कर्मचारी अपनी कंपनी द्वारा कराये गए स्वास्थ्य बीमा पर भरोसा करते हैं। यदि आपने भी अभी तक व्यक्तिगत स्वास्थ्य बीमा योजना नहीं खरीदी है, तो आपको अपनी समूह बीमा योजना के बारे में पर्याप्त जानकारी एवं समय-समय पर इसमें होने वाले बदलावों के बारे में जानकारी होनी चाहिए। उदाहरण के लिए जानें कि क्या नया कवर आपके स्वास्थ्य के लिए पर्याप्त है? यदि आप कवर को अपर्याप्त पाते हैं, तो आपको व्यक्तिगत स्वास्थ्य योजना को खरीदने की योजना बनाना चाहिए।

अपने स्वास्थ्य में परिवर्तन होने पर – क्या पिछले वर्षों में आपके स्वास्थ्य में परिवर्तन हुआ है? उदाहरण के लिए बढ़ती उम्र के कारण लोग मधुमेह या कोलेस्ट्रॉल जैसी बीमारियों का शिकार होते हैं। यदि आप भी इस तरह के किसी बदलाव से गुजरे हैं या आपको लगता है कि भविष्य में आपको कोई अन्य समस्या हो सकती है, तो आपको मूल्यांकन करना चाहिए कि क्या आपका स्वास्थ्य बीमा आपको पर्याप्त कवरेज प्रदान कर रहा है या नहीं।

परिस्थितियों के अनुसार संशोधन – आप अपनी बदलती परिस्थितियों के अनुसार अपनी स्वास्थ्य बीमा योजना में बदलाव कर सकते हैं।

जीवन बीमा की तरह ही आपको अपनी स्वास्थ्य बीमा योजना का भी पुनर्मूल्यांकन करना चाहिए। अपनी वर्तमान स्थिति का आकलन करके अपने बीमा कवर को अपडेट करने से आप तनाव मुक्त रहेंगे और आप में भविष्य की चुनौतियों का सामना करने का आत्मविश्वास पैदा होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here